Go Viral with TIKKLE

Posted on


https://www.facebook.com/tikkle.in – like us on Facebook

 

& visit Us on – http://www.tikkle.in

Advertisements

Requirement of JAVA Developer for “Bharti Group Company”

Posted on


Dear Candidate,
We have an urgent opening  for the Android Developer positioned at Gurgaon Sector – 44.
Please go through the details below:Work Experience: 3 year- 5 years
Location: Sector-44, Gurgaon (Haryana)

Interview Schedule: First round of interview would be telephonic, Please share by when you can available for the F2F round of interview and Below details-
Total Experience:
Relevant experience in android development:
Current ctc:
Expected ctc:
Notice Period:
Current company:
Current location:
Highest Qualification (with passing year & university):
Reason for job change:
Willing to relocate @ Gurgaon Location:Y/NJob Description: Mobile Developer

We are a small energetic team working on developing a mobile internet portal for the Indian market. Through this portal we aim to offer exciting content and services  to mobile users in India.
We’re based in Gurgaon and we’re looking for smart and passionate developers who can help enrich the experience of our users and push forward the product in  fresh and innovative way.

You Will:

• Build rich, dynamic mobile web apps that feel simply magical.
• Develop features that solve real consumer problems
• Work closely on every part of the portal – front end, backend and analytics.
• Explore new technologies (message queues, NoSQL databases, event-
based programming)
• Have fun

You should have:

• 3+ years of strong programming (Java on Linux preferred)
• Strong academic background and problem solving skills
• Ability to communicate and defend your ideas clearly
• Strong knowledge of threading, concurrency, scaling, and high availability.
• A desire to build products that users love

Big Pluses if you:

• Are an expert in Java
• Know HTML, CSS, Javascript, and other core technologies of the web
• Experience working on real products that have shipped.
• Are self-motivated and can get things done.
Perks:

• Top of the line MacBook Pro
• 24” monitor
• Smartphone of your choice
• Working with a team of passionate people just like you who love to
build products.
*Good communication skills and ability to work in a team environment.

Contact Details – If you really interested in this profile then kindly contact on careers.ankit@gmail.com / ankitc@bsb.in or you can call on 9990831707
Company Profile:

Bharti

Bharti Enterprises is one of India’s leading business groups with interests in telecom, agri business, retail and manufacturing. Bharti has been a pioneering force in the telecom sector with many firsts and innovations to its credit. Bharti Airtel, a group company, is a leading global telecommunications company with operations in 19 countries across Asia and Africa. Bharti Airtel offers mobile voice & data services, fixed line, high speed broadband, IPTV, DTH, turnkey telecom solutions for enterprises and national & international long distance services to carriers.

Bharti’s other business’ include Beetel Teletech, the country’s largest manufacturer and exporter of telephone terminals, FieldFresh Foods – a joint venture with Del Monte Pacific Ltd, to offer fresh and processed fruits and vegetables and Bharti Wal-Mart – a joint venture with Wal-Mart for wholesale cash-and-carry and back-end supply chain management operations in India, amongst others. For more information please refer to http://bharti.com.

SoftBank

SoftBank is a leading Internet company that aims to provide a range of services including mobile communications, broadband infrastructure, fixed-line telecommunications, internet culture, and others. SoftBank’s corporate vision is to “Make people happy through information revolution,” and it continuously strives to create synergies among various content and services within the Group. For more information, please refer to http://softbank.co.jp.

Requirement of Android Developer for “Bharti Group Company”

Posted on


Dear Candidate,
We have an urgent opening  for the Android Developer positioned at Gurgaon Sector – 44.
Please go through the details below:

Work Experience: 3 year- 5 years
Location: Sector-44, Gurgaon (Haryana)

Interview Schedule: First round of interview would be telephonic, Please share by when you can available for the F2F round of interview and Below details-
Total Experience:
Relevant experience in android development:
Current ctc:
Expected ctc:
Notice Period:
Current company:
Current location:
Highest Qualification (with passing year & university):
Reason for job change:
Willing to relocate @ Gurgaon Location:Y/N

Job Description: Mobile Developer

At BSB, we believe in crafting software of the highest quality. Software to
us isn’t just lines of code, it is art. The code is our paint brush. Our culture is
centered around empowering our engineering team to have creative freedom.
We are seeking brilliant Engineers with strong CS fundamentals, familiarity
with mobile phone frameworks, and a history of delivering beautiful user
experiences as we disrupt the mobile market in India. As one of the earliest
employee’s, you will have a direct impact on a product that can reach millions
of users.

You Will:

• Build native applications for one of the big smartphone platforms
(Android / iPhone)
• Develop features that solve real consumer problems
• Play an active role in determining and influencing the culture
• Look for ways we can reuse components by leveraging HTML5
technologies

Big Pluses if you:

• Have an app in one of the app stores (send us a link)
• Have worked on other mobile frameworks (Symbian, J2ME, bada)

Perks:

• Top of the line MacBook Pro
• 24” monitor
• Smartphone of your choice
• Working with a team of passionate people just like you who love to
build products.
*Good communication skills and ability to work in a team environment.

Contact Details – If you really interested in this profile then kindly contact on careers.ankit@gmail.com / ankitc@bsb.in or you can call on 9990831707
Company Profile:

Bharti

Bharti Enterprises is one of India’s leading business groups with interests in telecom, agri business, retail and manufacturing. Bharti has been a pioneering force in the telecom sector with many firsts and innovations to its credit. Bharti Airtel, a group company, is a leading global telecommunications company with operations in 19 countries across Asia and Africa. Bharti Airtel offers mobile voice & data services, fixed line, high speed broadband, IPTV, DTH, turnkey telecom solutions for enterprises and national & international long distance services to carriers.

Bharti’s other business’ include Beetel Teletech, the country’s largest manufacturer and exporter of telephone terminals, FieldFresh Foods – a joint venture with Del Monte Pacific Ltd, to offer fresh and processed fruits and vegetables and Bharti Wal-Mart – a joint venture with Wal-Mart for wholesale cash-and-carry and back-end supply chain management operations in India, amongst others. For more information please refer to http://bharti.com.

SoftBank

SoftBank is a leading Internet company that aims to provide a range of services including mobile communications, broadband infrastructure, fixed-line telecommunications, internet culture, and others. SoftBank’s corporate vision is to “Make people happy through information revolution,” and it continuously strives to create synergies among various content and services within the Group. For more information, please refer to http://softbank.co.jp.

where is 11th

Image Posted on


dd

Micromax Canvas 4 to Take on Samsung Galaxy S4

Posted on


Micromax, Samsung’s Indian nemesis, is back and with a phone competing with none other than the number one Samsung Galaxy S4!

Micromax recently released teaser videos of Micromax Canvas 4, the next flagship device with the Canvas moniker. Apart from sharing the same digit in the name, Micromax Canvas 4 also shares certain interesting specifications and features with Samsung Galaxy S4, pegging it as direct Indian competition to the Samsung flagship.

Micromax teased the phone in a couple of videos via its official page on YouTube. While the video shows the back clearly, viewers get just a passing glimpse of the front. The curved back comes with a sleek look and a gloss finish. The camera is positioned right at the edge of the phone with a single flash placed slightly away. The camera placement is definitely interesting as it protrudes slightly out at the top. However, we hope there is a protective bump as the placement renders it open to dust and harm.

On the specs front, Micromax Canvas 4 will come with an eight-core processor just like Samsung Galaxy S4. But we wonder if, like Samsung, Micromax will also divide the processors in two: quad-core for faster, heavier apps and the other four for regular, daily tasks. Whatever the case, we’re happy someone is finally taking on the world’s fastest smartphone!

Micromax Canvas 4
Micromax Canvas 4

Micromax Canvas 4 is also rumoured to come with a 13 MP camera. We don’t think they’re quite rumours as Samsung Galaxy S4 comes with a 13 MP cam too. But Samsung Galaxy S4 boasts of a host of camera features like voice-pictures and dual-shot which we are guessing Micromax might skip.

While we’re sure the phone will run Android Jelly Bean 4.2, we can’t say anything about the display and the memory. Our bet is a 5-inch display but Micromax might add or detract a couple of centimetres. Also, Micromax needs to up the RAM to 2 GB and provide a strong internal memory option (or options) to really stand a chance against the Samsung Galaxy S4.

While Micromax will offer specs which in theory, match those of Samsung Galaxy S4, it is the software features that really make Samsung Galaxy S4 the numero uno phone out there. Wonder if Micromax Canvas 4 will also support retina-scroll, gesture touch and the other frills so loudly marketed by Samsung. If yes, then we really wish Samsung all the best as Micromax this time might have the perfect recipe to topple Samsung off the top chart.

While Samsung Galaxy S4 promises to be your Life Companion (‘Life’ here being till the launch of the next Samsung Galaxy phone, we guess); Micromax Canvas 4 states that “Life Can be Endless.” How endless and for how long, June 28th will prove.

 

 

Source: http://www.indiatimes.com/technology

अक्षय तृतीया 2013

Posted on Updated on


अक्षय तृतीया या आखा तीज वैशाख मास में शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को कहते हैं। पौराणिक ग्रंथों के अनुसार इस दिन जो भी शुभ कार्य किये जाते हैं, उनका अक्षय फल मिलता है।[1] इसी कारण इसे अक्षय तृतीया कहा जाता है।[2] वैसे तो सभी बारह महीनों की शुक्ल पक्षीय तृतीया शुभ होती है, किंतु वैशाख माह की तिथि स्वयंसिद्ध मुहूर्तो में मानी गई है। भविष्य पुराण के अनुसार इस तिथि की युगादि तिथियों में गणना होती है, सतयुग और त्रेता युग का प्रारंभ इसी तिथि से हुआ है।[3] भगवान विष्णु ने नर-नारायण, हयग्रीव और परशुराम जी का अवतरण भी इसी तिथि को हुआ था।[4][5] ब्रह्माजी के पुत्र अक्षय कुमार का आविर्भाव भी इसी दिन हुआ था।[2] इस दिन श्री बद्रीनाथ जी की प्रतिमा स्थापित कर पूजा की जाती है और श्री लक्ष्मी नारायण के दर्शन किए जाते हैं। प्रसिद्ध तीर्थ स्थल बद्रीनारायण के कपाट भी इसी तिथि से ही पुनः खुलते हैं। वृंदावन स्थित श्री बांके बिहारी जी मन्दिर में भी केवल इसी दिन श्री विग्रह के चरण दर्शन होते हैं, अन्यथा वे पूरे वर्ष वस्त्रों से ढके रहते हैं।[5][6] जी.एम. हिंगे के अनुसार तृतीया ४१ घटी २१ पल होती है तथा धर्म सिंधु एवं निर्णय सिंधु ग्रंथ के अनुसार अक्षय तृतीया ६ घटी से अधिक होना चाहिए। पद्म पुराण के अनुसा इस तृतीया को अपराह्न व्यापिनी मानना चाहिए।[1] इसी दिन महाभारत का युद्ध समाप्त हुआ था और द्वापर युग का समापन भी इसी दिन हुआ था।[2] ऐसी मान्यता है कि इस दिन से प्रारम्भ किए गए कार्य अथवा इस दिन को किए गए दान का कभी भी क्षय नहीं होता। मदनरत्न के अनुसार:

अस्यां तिथौ क्षयमुर्पति हुतं न दत्तं। तेनाक्षयेति कथिता मुनिभिस्तृतीया॥
उद्दिष्य दैवतपितृन्क्रियते मनुष्यैः। तत् च अक्षयं भवति भारत सर्वमेव॥

महत्व

अक्षय तृतीया का सर्वसिद्ध मुहूर्त के रूप में भी विशेष महत्व है। मान्यता है कि इस दिन बिना कोई पंचांग देखे कोई भी शुभ व मांगलिक कार्य जैसे विवाह, गृह-प्रवेश, वस्त्र-आभूषणों की खरीददारी या घर, भूखंड, वाहन आदि की खरीददारी से संबंधित कार्य किए जा सकते हैं।[6] नवीन वस्त्र, आभूषण आदि धारण करने और नई संस्था, समाज आदि की स्थापना या उदघाटन का कार्य श्रेष्ठ माना जाता है। पुराणों में लिखा है कि इस दिन [पितृ पक्ष|[पितरों]] को किया गया तर्पण तथा पिन्डदान अथवा किसी और प्रकार का दान, अक्षय फल प्रदान करता है। इस दिन गंगा स्नान करने से तथा भगवत पूजन से समस्त पाप नष्ट हो जाते हैं। यहाँ तक कि इस दिन किया गया जप, तप, हवन, स्वाध्याय और दान भी अक्षय हो जाता है। यह तिथि यदि सोमवार तथा रोहिणी नक्षत्र के दिन आए तो इस दिन किए गए दान, जप-तप का फल बहुत अधिक बढ़ जाता हैं।[4] इसके अतिरिक्त यदि यह तृतीया मध्याह्न से पहले शुरू होकर प्रदोष काल तक रहे तो बहुत ही श्रेष्ठ मानी जाती है। यह भी माना जाता है कि आज के दिन मनुष्य अपने या स्वजनों द्वारा किए गए जाने-अनजाने अपराधों की सच्चे मन से ईश्वर से क्षमा प्रार्थना करे तो भगवान उसके अपराधों को क्षमा कर देते हैं और उसे सदगुण प्रदान करते हैं, अतः आज के दिन अपने दुर्गुणों को भगवान के चरणों में सदा के लिए अर्पित कर उनसे सदगुणों का वरदान माँगने की परंपरा भी है।

धार्मिक परंपराएँ

अक्षय तृतीया के दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर समुद्र या गंगा स्नान करने के बाद भगवान विष्णु की शांत चित्त होकर विधि विधान से पूजा करने का प्रावधान है।[4] नैवेद्य में जौ या गेहूँ का सत्तू, ककड़ी और चने की दाल अर्पित किया जाता है। तत्पश्चात फल, फूल, बरतन, तथा वस्त्र आदि दान करके ब्राह्मणों को दक्षिणा दी जाती है।[7] ब्राह्मण को भोजन करवाना कल्याणकारी समझा जाता है। मान्यता है कि इस दिन सत्तू अवश्य खाना चाहिए तथा नए वस्त्र और आभूषण पहनने चाहिए। गौ, भूमि, स्वर्ण पात्र इत्यादि का दान भी इस दिन किया जाता है। यह तिथि वसंत ऋतु के अंत और ग्रीष्म ऋतु का प्रारंभ का दिन भी है इसलिए अक्षय तृतीया के दिन जल से भरे घडे, कुल्हड, सकोरे, पंखे, खडाऊँ, छाता, चावल, नमक, घी, खरबूजा, ककड़ी, चीनी, साग, इमली, सत्तू आदि गरमी में लाभकारी वस्तुओं का दान पुण्यकारी माना गया है।[2][5][6] इस दान के पीछे यह लोक विश्वास है कि इस दिन जिन-जिन वस्तुओं का दान किया जाएगा, वे समस्त वस्तुएँ स्वर्ग या अगले जन्म में प्राप्त होगी। इस दिन लक्ष्मी नारायण की पूजा सफेद कमल अथवा सफेद गुलाब या पीले गुलाब से करना चाहिये।

सर्वत्र शुक्ल पुष्पाणि प्रशस्तानि सदार्चने।
दानकाले च सर्वत्र मंत्र मेत मुदीरयेत्॥

[3]

अर्थात सभी महीनों की तृतीया में सफेद पुष्प से किया गया पूजन प्रशंसनीय माना गया है।

ऐसी भी मान्यता है कि अक्षय तृतीया पर अपने अच्छे आचरण और सद्गुणों से दूसरों का आशीर्वाद लेना अक्षय रहता है। भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की पूजा विशेष फलदायी मानी गई है। इस दिन किया गया आचरण और सत्कर्म अक्षय रहता है।[3]

संस्कृति में

इस दिन से शादी-ब्याह करने की शुरुआत हो जाती है। बड़े-बुजुर्ग अपने पुत्र-पुत्रियों के लगन का मांगलिक कार्य आरंभ कर देते हैं। अनेक स्थानों पर छोटे बच्चे भी पूरी रीति-रिवाज के साथ अपने गुड्‌डा-गुड़िया का विवाह रचाते हैं। इस प्रकार गाँवों में बच्चे सामाजिक कार्य व्यवहारों को स्वयं सीखते व आत्मसात करते हैं। कई जगह तो परिवार के साथ-साथ पूरा का पूरा गाँव भी बच्चों के द्वारा रचे गए वैवाहिक कार्यक्रमों में सम्मिलित हो जाता है। इसलिए कहा जा सकता है कि अक्षय तृतीया सामाजिक व सांस्कृतिक शिक्षा का अनूठा त्यौहार है। कृषक समुदाय में इस दिन एकत्रित होकर आने वाले वर्ष के आगमन, कृषि पैदावार आदि के शगुन देखते हैं। ऐसा विश्वास है कि इस दिन जो सगुन कृषकों को मिलते हैं, वे शत-प्रतिशत सत्य होते हैं। राजपूत समुदाय में आने वाला वर्ष सुखमय हो, इसलिए इस दिन शिकार पर जाने की परंपरा है।

प्रचलित कथाएँ

अक्षय तृतीया की अनेक व्रत कथाएँ प्रचलित हैं। ऐसी ही एक कथा के अनुसार प्राचीन काल में एक धर्मदास नामक वैश्य था। उसकी सदाचार, देव और ब्राह्मणों के प्रति काफी श्रद्धा थी। इस व्रत के महात्म्य को सुनने के पश्चात उसने इस पर्व के आने पर गंगा में स्नान करके विधिपूर्वक देवी-देवताओं की पूजा की, व्रत के दिन स्वर्ण, वस्त्र तथा दिव्य वस्तुएँ ब्राह्मणों को दान में दी।[6] अनेक रोगों से ग्रस्त तथा वृद्ध होने के बावजूद भी उसने उपवास करके धर्म-कर्म और दान पुण्य किया। यही वैश्य दूसरे जन्म में कुशावती का राजा बना।[5] कहते हैं कि अक्षय तृतीया के दिन किए गए दान व पूजन के कारण वह बहुत धनी प्रतापी बना। वह इतना धनी और प्रतापी राजा था कि त्रिदेव तक उसके दरबार में अक्षय तृतीया के दिन ब्राह्मण का वेष धारण करके उसके महायज्ञ में शामिल होते थे। अपनी श्रद्धा और भक्ति का उसे कभी घमंड नहीं हुआ और महान वैभवशाली होने के बावजूद भी वह धर्म मार्ग से विचलित नहीं हुआ। माना जाता है कि यही राजा आगे चलकर राजा चंद्रगुप्त के रूप में पैदा हुआ। [2][6]

स्कंद पुराण और भविष्य पुराण में उल्लेख है कि वैशाख शुक्ल पक्ष की तृतीया को रेणुका के गर्भ से भगवान विष्णु ने परशुराम रूप में जन्म लिया। कोंकण और चिप्लून के परशुराम मंदिरों में इस तिथि को परशुराम जयंती बड़ी धूमधाम से मनाई जाती है। दक्षिण भारत में परशुराम जयंती को विशेष महत्व दिया जाता है। परशुराम जयंती होने के कारण इस तिथि में भगवान परशुराम के आविर्भाव की कथा भी सुनी जाती है। इस दिन परशुराम जी की पूजा करके उन्हें अर्घ्य देने का बड़ा माहात्म्य माना गया है। सौभाग्यवती स्त्रियाँ और क्वारी कन्याएँ इस दिन गौरी-पूजा करके मिठाई, फल और भीगे हुए चने बाँटती हैं, गौरी-पार्वती की पूजा करके धातु या मिट्टी के कलश में जल, फल, फूल, तिल, अन्न आदि लेकर दान करती हैं। मान्यता है कि इसी दिन जन्म से ब्राह्मण और कर्म से क्षत्रिय भृगुवंशी परशुराम का जन्म हुआ था। एक कथा के अनुसार परशुराम की माता और विश्वामित्र की माता के पूजन के बाद प्रसाद देते समय ऋषि ने प्रसाद बदल कर दे दिया था। जिसके प्रभाव से परशुराम ब्राह्मण होते हुए भी क्षत्रिय स्वभाव के थे और क्षत्रिय पुत्र होने के बाद भी विश्वामित्र ब्रह्मर्षि कहलाए। उल्लेख है कि सीता स्वयंवर के समय परशुराम जी अपना धनुष बाण श्री राम को समर्पित कर सन्यासी का जीवन बिताने अन्यत्र चले गए। अपने साथ एक फरसा रखते थे तभी उनका नाम परशुराम पड़ा।

Source - http://hi.wikipedia.org/

Union Budget 2013-2014

Posted on


त्री ने कहा कि भाषण सीधा, छोटा और स्पष्ट रखूंगा। बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने तमिल संत कवि तिरूवल्लूर और स्वामी विवेकानंद के कथनों को दोहराते हुए कहा कि अगर हम सही फैसले और सही चुनाव करें तो भारत विश्व की पांच बड़े देशों में स्थान पा सकता है।

via Union Budget 2013-2014.